Breaking News

मानसून के 51 दिन में 190 मिमी. बारिश, 107 मिमी. पानी पिछले 1 हफ्ते में ही बरसा

चंडीगढ़ । प्रदेश में 13 जून को दस्तक देने के बाद मानसून तकरीबन 1 महीने तक निष्क्रिय रहा. लेकिन जब बारिश हुई तो पूरे महीने की कसर एक हफ्ते में पूरी हो गई. बता दे कि 24 घंटे में 14.3 एमएम बारिश हुई. 1 जून से शुरू होने मॉनसून सीजन में अब तक 190.2 एमएम बरसात हुई है, जो सामान्य बरसात से 27% ज्यादा है.

एक हफ्ते की बारिश ने महीने भर की कसर पूरी की 

इस बारिश में से 106.9 एमएम बरसात पिछले 1 सप्ताह में हुई है. सामान्य से तकरीबन 179% ज्यादा है. हरियाणा में पड़ोसी राज्यों की तुलना में अधिक बरसात हुई है. पंजाब में सामान्य से 15%,  यूपी में 39%, राजस्थान में 44%,  कम बारिश हुई है. हिमाचल प्रदेश में सामान्य से 5 फ़ीसदी ज्यादा बारिश हुई है. प्रदेश में 13 से 20 जुलाई तक यानी 1 हफ्ते में ही हरियाणा में.5.50 लाख हेक्टेयर में खरीफ की फसलों की बिजाई हुई है.

यह भी पढ़े   पिछले 15 सालों में इतनी देरी से मॉनसून देगा दस्तक, अबकी बार लगेगी बारिश की झड़ी

इनमें से तकरीबन 2.66 लाख हेक्टेयर में धान, 1.54 हेक्टेयर में बाजरा और 14 हजार हेक्टेयर में ग्वार की बिजाई हुई है.पिछले साल 21 जुलाई तक 24.41 लाख हेक्टयर में बिजाई हो गई थी, जबकि इस बार बारिश की देरी के कारण 23.18 लाख हेक्टेयर में ही बिजाई हुई है. यानी पिछले साल से अभी भी बिजाई 1.23 लाख हेक्टेयर पीछे है. अब बारिश होने से बिजाई में तेजी आएगी. जुलाई के 21 दिन में प्रदेश मानसून की बारिश 140.7 एमएम बरसात हुई. इस अवधी में 102.3 एमएम बरसात सामान्य मानी जाती है.

यह भी पढ़े   प्रदेश में बदल सकते हैं राजनीतिक समीकरण, भाजपा को हो सकता है चौटाला की रिहाई का फायदा !

About Monika Sharma