Breaking News

7वां वेतन आयोग: ये लाखों गवर्नमेंट सर्वेंट भी पाएंगे केंद्र के समान Salary, साथ मिलेगा 4 साल का Arrear

नई दिल्ली । पंजाब और हिमाचल प्रदेश के 7 लाख से ज्यादा सरकारी कर्मचारियों की जुलाई में बल्ले-बल्ले होगी. बता दें कि उनकी सैलरी करीब 3 गुना तक बढ़ेगी. इससे उनकी मिनिमम सैलेरी 6950 रूपये से बढ़कर ₹18000 महीना तक हो जाएगी. यानी अब वे भी केंद्रीय कर्मचारियों के 7th Pay matrix के बराबर वेतन पाएंगे. वहीं पंजाब के 5.4 लाख कर्मचारियों को जुलाई से ही नया वेतनमान मिलना शुरू हो जाएगा. इसके बाद यह हिमाचल प्रदेश में भी लागू होगा.

हरियाणा के कर्मचारियों से ज्यादा सैलरी

पंजाब सरकार ने 6th pay commission की सिफारिशों को मानते हुए वेतनमान में बढ़ोतरी को हरी झंडी दे दी है. बता दें कि 1 जुलाई 2021 से इसे लागू करने का फैसला हुआ है. सरकार ने आयोग की ज्यादातर सिफारिशें भी मान ली है. ऑल इंडिया अकाउंट एंड ऑडिट कमिटी के जनरल सेक्रेटरी एचएस तिवारी ने बताया कि केंद्र और राज्य सरकारे समय-समय पर अपने कर्मचारियों का वेतन मान रिवाइज करती है .

यह भी पढ़े   BKU का ऐलान: किसान आंदोलन को मजबूत करने पानीपत से दिल्ली जाएंगे हजारों किसान

पंजाब में छठा वेतनमान लागू हुआ है हालांकि उनकी सैलरी और केंद्र मे कर्मचारियों की सैलरी में ज्यादा फर्क नहीं रह जाएगा. क्योंकि छठे वेतन आयोग ने 7th pay matrix को देख कर ही अपना पे स्ट्रक्चर तैयार किया है. बता दें कि पंजाब में एक जुलाई 2021 से नया वेतनमान लागू होने जा रहा है, जिसकी वजह से वहां के लाखों सरकारी कर्मचारियों की सैलरी पड़ोसी राज्य हरियाणा के गवर्नमेंट सर्वेंट से बढ़ जाएगी.

पंजाब सरकार ने क्‍या सिफारिशें मानीं

  • 5.4 लाख सरकारी कर्मचारियों की मिनिमम सैलरी में 2.59 गुना का इजाफा हुआ है.
  • इससे उनकी मिनिमम सैलरी 6950 रुपए से बढ़कर 18000 रुपए महीना हो जाएगी.
  • इसका फायदा पेंशनरों को भी मिलेगा. उनकी पेंशन भी 1 जुलाई से बढ़कर आएगी.
  • Commutation of Pension के रेस्‍टोरेशन को 1 जुलाई 2021 से मान लिया गया है,  इसे 40% रखा गया है
  • Death-cum-Retirement Gratuity (DCRG) को भी 10 लाख रुपए से बढ़ाकर 20 लाख रुपए किया गया है.
  • Ex-Gratia Grant की रकम भी बढ़ाकर डबल कर दी गई है.
  • इसमें New Pension Scheme के कर्मचारी भी आएंगे.
यह भी पढ़े   बसताड़ा टोल प्लाजा से दिल्ली प्रस्थान करने को निकला किसानों का काफिला, चढूनी कर रहे हैं नेतृत्व

About Monika Sharma