Breaking News

हरियाणा में 112 डायल करने पर मिलेंगी, पुलिस, एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड की सुविधा

चंडीगढ़ । हरियाणा वासियों को सोमवार से 112 नंबर डायल करने पर पुलिस, एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड की इमरजेंसी सेवा मिलेगी. इसके लिए अलग अलग नंबर डायल करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी. बता दें कि प्रदेश सरकार ने सीडैक (सेंटर फॉर डेवलपमेंट आफ एडवांस्ड कंप्यूटिंग) के माध्यम से इमरजेंसी रिस्पांस एंड सपोर्ट सिस्टम प्रोजेक्ट की स्थापना की है. पंचकूला में इसका राज्यस्तरीय कंट्रोल रूम बनाया गया है.

मुख्यमंत्री करेंगे ड्रीम प्रोजेक्ट 112  का उद्घाटन

वही मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर 12 जुलाई को दोपहर 12:00 बजे प्रदेश में डायल 112 शुरू करेंगे. बता दे कि सी डेक को करीब 152 करोड रुपए के भुगतान के अलावा करीब 90 करोड़ की लागत से 630 नए इमरजेंसी रिस्पांस व्हीकलस की खरीद भी की गई है. देश में यह प्रोजेक्ट 20 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में काम कर रहा है. चार राज्यों में यह लागू किया जा रहा है. इआरएसएस पुलिस की सबसे महत्वकांक्षी और बड़ा प्रोजेक्ट है.

यह भी पढ़े   पहलवान सुशील कुमार को दिल्ली पुलिस ने दिया एक और बड़ा झटका, पिस्टल का लाइसेंस किया सस्पेंड

जो प्रदेश के लोगों को न केवल पुलिस आपातकालीन सेवाओं बल्कि अन्य आपातकालीन सेवाओं जैसे फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस तक भी पहुंच आएगा. बता दें कि प्रोजेक्ट पूरी तरह से लागू हो जाने के बाद हरियाणा के प्रत्येक नागरिक को शहरी क्षेत्रों में पुलिस नियंत्रण कक्ष में कॉल करने पर 15 मिनट के भीतर,  ग्रामीण क्षेत्र में 30 मिनट के भीतर आपातकालीन पुलिस सेवाएं उपलब्ध होगी. इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर के लिए पंचकूला के सेक्टर 1 में पहले से ही एक आधुनिक भवन का निर्माण किया गया है जों इसका कंट्रोल रूम होगा.

यह भी पढ़े   झज्जर की बेटी ने विदेश में रोशन किया देश का नाम, आईसीएन चैंपियनशिप में जीता गोल्ड

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि प्रदेशवासियों को आपातकालीन सुविधा मुहैया करवाने के लिए एक ही नंबर डायल करना होगा. इस योजना के तहत प्रदेश के सभी जिलों को आधुनिक पुलिस वाहन मुहैया करवाए गए हैं. हरियाणा के डायल 112 मुख्यमंत्री और गृहमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है. इसका उद्घाटन 26 जनवरी 2021 को होना था, लेकिन कोरोना की वजह से यह प्रोजेक्ट डिले हो गया.

About Monika Sharma