Breaking News

हत्या के आरोपियों काे पकड़ने गई सीआईए टीम पर हमला, स्टाफ पर गोली भी चलाई, कई पुलिसकर्मी घायल

रोहतक । सैमाण में हुए रोहित हत्याकांड के मामले में आरोपियों को पकड़ने कलानौर गई सीआईए की टीम पर आरोपी पक्ष ने हमला कर दिया. बता दें कि आरोपियों ने न केवल पथराव किया बल्कि सीआईए के कर्मचारी का सरकारी हथियार छीनने का भी प्रयास किया. आरोपियों ने सीआईए स्टाफ पर गोली भी चलाई. इस बचाव में सीआईए टीम ने भी हवाई फेयर फायरिंग की और भागकर मुश्किल से अपनी जान बचाई. इस हमले में कई पुलिसकर्मियों को चोट आई. बता दे कि 15 दिनों में यह तीसरी बार है जब पुलिस पर ऐसे हमला किया गया.

आरोपियों को पकड़ने गए पुलिसकर्मियों पर किया गया पथराव 

इस मामले पर एसपी राहुल शर्मा ने रिपोर्ट मांगी है. वही सीआईए की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने और मारपीट का मामला दर्ज किया गया है. इस मामले के अनुसार एसआई भगतराम ने शिकायत की कि वह एएसआई अश्विन कुमार, ईएचसी मनोज कुमार, ईएचसी राकेश कुमार, सिपाही नरेंद्र के साथ गाड़ी चालक ईएचसी रविंद्र कुमार को लेकर कलानौर गए थे. उन्हें खबर मिली थी कि सैमाण में हुए रोहित हत्याकांड के मुख्य आरोपी विकास उर्फ मटरी व ललित उर्फ टूबी अपने जानकार  जगता निवासी बुसाना फाटक कलानौर के ठिकाने पर रह रहे है.

यह भी पढ़े   भिवानी में महिला की मौत के बाद अस्पताल ने कहां शरीर पर सूजन है नहीं मिलेंगे आभूषण, दबाव में लौटाए

भगतराम टीम को लेकर मौके पर पहुंचे. उन्होंने रात के समय मकान में छापेमारी की. जहां जगता व उसके लड़के सचिन, सत्यपाल,कीर्तन, मंदरूप,शोभा व दो तीन अन्य लड़के व औरत गाड़ी की आवाज सुनकर घर के बाहर गली में आ गए और टीम के साथ गाली गलौज करने लगे. यह मामला इतना बढ़ गया कि आरोपियों ने सीआईए स्टाफ के साथ हाथापाई तक शुरू कर दी.  पुलिस द्वारा आरोपियों को काफी समझाने का प्रयास किया गया. लेकिन जब पुलिस विकास के बारे में पूछताछ करने लगी तो जगता व उसके लड़के उनके साथ मारपीट व  धक्का-मुक्की करने लगे. एफ आई आर के अनुसार आरोप लगाया गया कि जनता ने तेज आवाज में कहा कि मारो आज सबको सबक सिखाएंगे. जनता के दो-तीन लड़के छत पर चले गए और वहां से पथराव शुरू कर दिया.

यह भी पढ़े   मुरथल के बाद रोहतक में छापेमारी, 6 युवतियां व 4 युवक देह व्यापार के आरोप में गिरफ्तार

About Monika Sharma