Breaking News

पहलवान सुशील कुमार को दिल्ली पुलिस ने दिया एक और बड़ा झटका, पिस्टल का लाइसेंस किया सस्पेंड

नई दिल्ली । देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई को पहलवान सागर धनखड़ की हत्या हुई थी. इस मामले में फंसे ओलंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार को एक और बड़ा झटका लगा है. बता दे कि दिल्ली पुलिस के लाइसेंस विभाग द्वारा बड़ी कार्रवाई की गई है. लाइसेंस विभाग ने पहलवान सुशील की पिस्टल का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया है. इसके साथ ही दिल्ली स्थित लाइसेंस विभाग ने सुशील और उसके परिजनों के नाम एक नोटिस भेजा है.

लाइसेंस विभाग ने दिया सुशील कुमार को एक बड़ा झटका

नोटिस में लाइसेंस विभाग ने कई सवाल किए हैं, लाइसेंस विभाग के नोटिस में सवाल किया गया है कि आर्म्स के लाइसेंस को पूर्ण तौर पर रद्द क्यों न करें. इस मसले पर सुशील कुमार के घर एक आखिरी नोटिस भी भेजा गया है और इस नोटिस का जवाब मांगा गया है. इस नोटिस के जवाब के लिए लाइसेंस विभाग कुछ दिन इंतजार करेगा. अगर उसके बाद जवाब नहीं मिलता है या तर्क पूर्वक जवाब नहीं होगा.  तब उनके लाइसेंस को पूर्ण तौर पर कैंसिल कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़े   बड़ी राहत: चंडीगढ़ व गुरुग्राम की तरह अंबाला डिपो को भी मिलेगी वोल्वो बसें

सागर धनकड़ हत्या से जुड़े आरोप में गिरफ्तार हुए सुशील कुमार की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है. अलग-अलग विभागों द्वारा उन पर कार्रवाई की जा रही है. एक वक्त था, जब सुशील कुमार ने देश का मान सम्मान बढ़ाया था , जिसकी वजह से उन्हें अलग-अलग सम्मान और पद प्रदान किए गए थे. लेकिन अब उन्हें उन्हीं सभी पदों से हटाया जा रहा है.

सुशील कुमार पर हो सकती है मकोका की करवाई 

वहीं दिल्ली पुलिस मुख्यालय में कार्यरत वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी ने इस खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि साल 2012 में सुशील कुमार ने एक पिस्टल का लाइसेंस लिया था. दिल्ली पुलिस पहलवान सागर धनकड़ की हत्या के मामले में जांच पड़ताल करने के दौरान दिल्ली स्थित  उनके आवास पर भी गई थी और उन्होंने सुशील कुमार के पिस्टल के बारे में उसके घर वालों से पूछा. उसके बाद उस पिस्टल और उससे संबंधित लाइसेंस की कॉपी की भी मांग की थी, लेकिन घरवालों द्वारा इसके लिए स्पष्ट मना कर दिया गया था.

यह भी पढ़े   12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर हुई बैठक खत्म, लिया गया ये अहम फैसला

विभाग द्वारा कार्रवाई करते हुए सुशील कुमार के पिस्टल  का लाइसेंस दिल्ली पुलिस द्वारा फिलहाल सस्पेंड कर दिया गया है. अगर 1 सप्ताह के अंदर इस मामले पर कोई भी जवाब नहीं आता तो उनके पिस्टल का लाइसेंस पूर्ण तौर पर कैंसिल कर दिया जाएगा. दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक सागर  की हत्या के मामले में फंसे सुनील कुमार पर दिल्ली पुलिस मकोका लगाने की तैयारी कर रही है. बता दे कि मकोका की कार्रवाई संगठित अपराध करने वालों पर होती है. अगर ऐसा हुआ तो सुशील को आसानी से जमानत नहीं मिलेगी. मकोका में उम्र कैद की सजा का प्रावधान है.

About Monika Sharma