Breaking News

फर्जी CBI इंस्पेक्टर ने थाने में पहुंचकर पुलिस कर्मचारियों को धमकाया, देखेंं फिर क्या हुआ

जींद । हरियाणा के जींद जिले में सदर थाना सफीदों में CBI इंस्पेक्टर बनकर पुलिस कर्मियों को धमकाने और रोब झाड़ने वाला फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर निकला. बता दें कि पुलिसकर्मियों ने फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर के नकली पिस्तौल तथा आई कार्ड को कब्जे में ले लिया है. साथ ही उन पर धोखाधड़ी, सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने और फर्जीवाड़े का सहारा लेने सहित विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए उन्हें अदालत में पेश किया.

अदालत ने भेजा आरोपी को 1 दिन के रिमांड पर 

अदालत ने आरोपी को 1 दिन की रिमांड पर भेजा. रिमांड के दौरान पुलिस आरोपी से अन्य वारदातों से संबंधित जानकारी इकट्ठा करेगी. सदर थाना सफीदों में हाट तथा गोहाना के लोगों के बीच पारिवारिक मामले को लेकर दोनों पक्षों को बुलाया गया था. गोहाना पक्ष की तरफ से एक व्यक्ति पहुंचा था. जिसने अपने आप को सीबीआई का इंस्पेक्टर अनिल दहिया बताया. उसने आई कार्ड भी जेब में डाला हुआ था और साथ में सरकारी दिखाई देने वाला पिस्तौल भी उसके पास था. इंस्पेक्टर  ने  मामले की जांच कर रहे जांच अधिकारी को तो धमकाया ही,  साथ ही थाने के मुंशी को भी जमकर फटकार लगाई. एसएचओ के कार्यवश बाहर होने पर उसके बारे में जवाब तलबी की.

यह भी पढ़े   महिला ने नागरिक अस्पताल के डॉक्टर को पीटा, बाद में हाथ जोड़कर माफी मांगी, देखे वायरल वीडियो

इन गतिविधियों के चलते पुलिस को हुआ सदेह 

बता दें कि फर्जी सीबीआई इंस्पेक्टर पुलिस कर्मियों पर इतना रोब झाड़ रहा था,  कि सभी को उसकी गतिविधियों पर संदेह हो गया. संबंधित पुलिसकर्मी ने सीबीआई इंस्पेक्टर से उसका असला और आई कार्ड ले लिया. जांच अधिकारी ने तथाकथित सीबीआई इंस्पेक्टर को बातों में उलझा रखा.  तो स्टाफ के दूसरे सदस्य ने आई कार्ड को वेरीफाई किया. उनका आई कार्ड फर्जी निकला साथ ही सरकारी असला भी नकली निकला. पुलिस ने सीबीआई इंस्पेक्टर को पकड़ लिया उसकी पहचान गोहाना निवासी सुनील के रूप में हुई. सदर थाना सफीदों पुलिस ने सुनील के खिलाफ धोखाधड़ी, सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने, फर्जीवाड़े का सहारा लेने संबंधित विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़े   तिहाड़ जेल से आए बंदी समेत दो लोगों ने लगाई फांसी, मचा हड़कंप

About Monika Sharma