Breaking News

बसताड़ा टोल प्लाजा से दिल्ली प्रस्थान करने को निकला किसानों का काफिला, चढूनी कर रहे हैं नेतृत्व

करनाल । किसानों का काफिला आज दिल्ली की तरफ बसताड़ा टोल प्लाजा से निकला. बता दें कि यह काफिला गुरनाम सिंह के चढूनी के नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है. इस मौके पर गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि भारी संख्या में किसान दिल्ली की तरफ प्रस्थान कर रहे हैं, ताकि दिल्ली में किसान आंदोलन में अलग-अलग जिलों की हाजिरी बनी रहे. उन्होंने कहा कि कोरोना किसान नहीं,  सरकार फैला रही है. सरकार अपने निकम्मेपन को छुपाने के लिए किसानों पर आरोप लगा रही हैं.

चढूनी के नेतृत्व में दिल्ली की ओर प्रस्थान 

उन्होंने कहा कि सरकार के पास ना एंबुलेंस की सेवा है, ना बेड की, ना हॉस्पिटल की, अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए वह किसानों पर आरोप लगा रही है. अगर ऐसा है तो सरकार क्यों कार्यक्रम कर रही है, क्यों भीड़ कर रही है. हमारी तो मजबूरी है, लेकिन सरकार की क्या मजबूरी है. यह काफिला करनाल से इसलिए निकला है ताकि सिंधु बॉर्डर पर किसानों की हाजिरी बनी रहे. सरकार को ऐसा ना लगे कि यह आंदोलन ठंडा पड़ गया है.

यह भी पढ़े   हरियाणा में 13,800 गेस्ट व एडहॉक शिक्षकों को सरकार ने दिया बड़ा झटका, जाने क्या

सभी जगहों से किसान लगातार वहां पहुंच रहे हैं. किसान संयुक्त मोर्चा की तरफ से सरकार को खत भी लिखा गया. उस खत में लिखा गया कि किसान भी सरकार से बातचीत करने के लिए तैयार है . जब सरकार तैयार है, तो हम भी तैयार हैं फिर आखिर बातचीत क्यों नहीं हो रही. यह खत सरकार को इसलिए लिखा गया है ताकि जनता को यह न लगे कि किसान अपनी जिद पर अड़े हुए हैं. किसान भी सरकार से बातचीत के लिए बिल्कुल तैयार है, लेकिन सरकार इसके लिए आगे तो आये.

यह भी पढ़े   किसानों ने सुनाया अनोखा फरमान-ऐसे घरों में नहीं ब्याहेंगे अपने लड़के-लड़कियों को

About Monika Sharma