Breaking News

अमेरिका के स्कूल में शूटर ने की अंधाधुंध गोलीबारी, मरने वालों में 18 बच्चों सहित 21 लोगों की मौत

टेक्सास | टेक्सास में एक शक़्स ने अंधाधुंध गोलीबारी की घटना को अंजाम दिया हैं इस व्यक्ति की पहचान 18 वर्षीय सल्वाडोर रामोस नामक के रूप में हुई। बंदूकधारी ने मंगलवार को रॉब एलीमेंट्री स्कूल में 18 बच्चों सहित 3 वयस्कों की गोली मार कर हत्या कर दी हैं । यह घटना बफेलो सुपरमार्केट की शूटिंग के बमुश्किल 10 दिन बाद हुई थी जहां 10 व्यक्तियों को मौत के घाट उतर दिया था। पुलिस ने उपद्रवी 18 वर्षीय को भी मौत के घाट उतर दिया गया है। अमेरिकी टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने बताया हैं कि इस व्यक्ति की पहचान स्थानीय उवाल्डे में रॉब एलीमेंट्री स्कूल में सैन एंटोनियो के पश्चिम में करीब 85 मील की दूरी पर स्थित एक स्कूल में अंधाधुंध गोलियां बरसाई थी ।

गवर्नर के अनुसार “उसने 18 स्कूल के बच्चों गोली से भून दिया और एक स्कूल शिक्षक की भी गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई।” शूटर वहीं का रहने वाला व्यक्ति था जिसने यह हमले को अंजाम दिया और उसके हाथ में एक गन और राइफल लेकर स्कूल में घुस कर हमला कर स्कूली बच्चों पर उसने गोलियों बरसाना शुरू कर दिया। बताया जा रहा हैं कि शूटर का नाम का नाम सल्वाडोर रामोस था जो यहीं का रहने वाला था, और शूटर को पुलिस ने मौके पर ही मौत के घाट उतार दिया।

यह भी पढ़े   गोलियों से गूंजा सोनीपत, जमानत पर आए युवक पर बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां

एबॉट ने कहा की ऐसी ही एक घटना पिछले कुछ सालों पहले 2012 में सैंडी हुक स्कूल में हुई धुआधार गोलीबारी की घटना से ज्यादा घातक है। टेक्सास का यह एक सा छोटा शहर उवाल्डे लगभग 20,000 से भी कम जनसंख्या वाला शहर है। यह मैक्सिकन सिटी से लगभग पास में ही स्थित हैं।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने जताया था शोक

अमेरिका के स्कूल में शूटर ने की अंधाधुंध गोलीबारी, मरने वालों में 18 बच्चों सहित 21 लोगों की मौत

सीएनएन के अनुसार, पार्कलैंड, फ्लोरिडा में कुछ सालो पहले हुई थी 2018 हुई घटना मार्जोरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल में की गई ताबड़तोड़ गोलीबारी के बाद की यह सबसे दिलदेहलाने वाली घटना हैं। राष्ट्रपति जो बाइडेन ने व्हाइट हाउस निर्देश दिया कि पीड़ितों के सम्मान में शनिवार को सूर्यास्त तक अमेरिकी झंडे आधे झुकाकर फहराए जाएं और उनके सम्मान में शोक व्यक्त किया जाए और उनकी आत्मा को शांति प्रदान हो की कामना की ।

यह भी पढ़े   सिद्दू मूसेवाला की हत्या का बदला लेंगे नीरज बवाना गैंग!

इस दर्दनाक घटना पर देश को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा, “इस तरह की दिलदेहलाने वाली घटनाएं और अंधाधुंध गोलीबारी की घटनाएं हमारे राष्ट्र में सबसे अधिक हो रही हैं। हम इस नरसंहार के साथ नही जी सकते| भगवान हमे इससे निपटने का साहस और शक्ति प्रदान करे| इस दर्द को अमल में लाने का समय आ गया है।और राष्ट्र में बढ़ रहे आतंक का ख़ात्मा करना होगा “

उन्होंने बताया की, “इस घटना पर रोष व्यक्त किया और कहा मैं आग्रेह कहता हूं।”ऐसे माता पिता को भगवान शक्ति और साहस दे।

बीते साल 2018 में भी एक ऐसी ही घटना सामने आई थी जिसमे पार्कलैंड, फ्लोरिडा में 14 हाई स्कूल के छात्रों और तीन युवा कर्मचारियों की मौत के बाद से सबसे घातक घटना है। कुछ सालों पहले 2012 में भी कनेक्टिकट में सैंडी हुक की गोलीबारी में एक स्कूल में 20 बच्चे और छह कर्मचारी की मरे जाने की खबर से सनसनी फ़ैल गईथी।

About Monika Sharma