Breaking News

प्रदेश में 12 लाख विद्यार्थी अभी भी MIS पोर्टल पर अपडेट नहीं, शिक्षा विभाग ने दिए निर्देश

चंडीगढ़ । हरियाणा में एक तरफ जहां इस साल सरकारी स्कूलों में बच्चे के दाखिले कम हुए हैं. वहीं निजी स्कूलों के भी 12 लाख से अधिक बच्चों का डाटा अभी तक MIS पोर्टल पर अपलोड नहीं हुआ है. बता दें कि ड्रॉपआउट की आशंका की वजह से प्रदेश सरकार ने सभी शिक्षा अधिकारियों को निजी स्कूल संचालकों के साथ संपर्क करके जल्द से जल्द डाटा अपलोड करवाने के निर्देश जारी किए हैं.

संज्ञान में आते ही विभाग ने दिए जल्द से जल्द डाटा अपलोड करने के लिए 

हरियाणा के प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले 2983132 बच्चों में से 1251847 बच्चों का डाटा एमआईएस पोर्टल पर अपडेटेड नहीं है. शायद इसी की वजह से ही निदेशालय ने सभी जिला अधिकारियों को इन बच्चों का डाटा तुरंत एमआईएस पोर्टल पर अपडेट करने के आदेश जारी किए हैं, ताकि बड़े स्तर पर ड्रॉप आउट होने की आशंका को कम किया जा सके. बता दें कि सबसे ज्यादा ड्रॉपआउट बच्चों की संख्या में एनसीआर क्षेत्र के फरीदाबाद और गुरुग्राम जिले शामिल है.

यह भी पढ़े   हरियाणा में फिर हो सकती है ग्रुप डी और सी की भर्तियां, मांगा गया डाटा

जब यह मामला निदेशालय के संज्ञान में आया तो उन्होंने प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों का डाटा एकत्रित मार्च 2021 के अनुसार गत शैक्षणिक सत्र में जों 2983132 इतना था. 28जून तक केवल 1731285 बच्चों का डाटा ही एमआईएस पोर्टल पर अपडेट हुआ था. इस डाटा के अनुसार 1251847 बच्चे ऐसे हैं जो प्राइवेट स्कूलों में पढ़ते थे, लेकिन अभी तक उनके डाटा को अपलोड नहीं किया गया है.

इन जिलों में इतने बच्चों का डाटा नहीं अपडेट

अंबाला में 45,675, भिवानी में 53,890, चरखी दादरी में  16,709, फरीदाबाद में 1,97,195, फतेहाबाद में 25,638, गुरुग्राम में 1,15,237, हिसार में 70,221, झज्जर में 49,321, जींद में 44,401, कैथल में 41,079, करनाल में 62,382, कुरुक्षेत्र में 39,320, महेंद्रगढ़ में 41,764, नूंह मेवात में 26,316, पलवल में 62,011, पंचकूला में 18,784, पानीपत में 70,212, रेवाड़ी में 51,525, रोहतक में 48,412, सिरसा में 32,987, सोनीपत में 86,585 और यमुनानगर में 52,183 बच्चे शामिल हैं. जिनका डाटा एमआईएस पोर्टल पर अपडेट नहीं है. इनकी कुल संख्या 12,51,847 है.

यह भी पढ़े   हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओपी चौटाला का हुआ एक्सीडेंट, मेदांता अस्पताल में भर्ती

About Monika Sharma