Breaking News

किसानों के लिए जबरदस्त स्कीम, खेत खाली रखने पर भी हरियाणा सरकार देगी 7000 रुपये

चंडीगढ़ । हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने चंडीगढ़ में घोषणा की कि किसानों के हित में मेरा पानी मेरी विरासत योजना को मेरी फसल मेरा ब्योरा से जोड़ दिया जाएगा, ताकि किसानों को मिलने वाली प्रोत्साहन राशि बिना किसी देरी के मिल सके. मुख्यमंत्री शुक्रवार को मेरा पानी मेरी विरासत योजना की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे. इस दौरान हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जयप्रकाश दलाल भी बैठक में थे.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सरकार जल संरक्षण करने वाले किसानों को प्रोत्साहन के रूप में राशि प्रदान करेंगी. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष की तरह जो किसान धान की फसल बोने के बजाय अन्य फसलों को तरजीह देगा उन्हें भी प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. पिछले वर्ष ऐसे किसानों को 7 हज़ार रूपए प्रति एकड़ की दर से राशि दी गई थी. जिसे लेकर प्रदेश के किसानों ने उत्साह दिखाते हुए 96000 एकड़ में अन्य फसलों की बिजाई की थी. इस तरह अब हरियाणा के गैर बासमती धान बेल्ट में खाली खेत का भी किसानों को पैसा मिलेगा.

यह भी पढ़े   हरियाणा में बुजुर्ग ने अपनी पुत्रवधू के साथ की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी यह बड़ी बात

उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछली बार के अच्छे परिणामों को देखते हुए इस साल भी इस योजना को लागू करने का निर्णय लिया है. उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों को अधिक से अधिक इस बारे में जागरूक करें ताकि पानी की बचत की जा सके. उन्होंने बताया कि जो किसान इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उनको मेरी फसल मेरा ब्यौरा और मेरा पानी मेरी विरासत पोर्टल पर अपनी फसल की सारी जानकारी भर देनी होगी.

यह भी पढ़े   मीडिया के सामने बताई सच्चाई, सरपंच ने दबाव में दी थी आसिफ को क्लीन चिट

जब यह जानकारी पूरी तरीके से अपलोड हो जाएगी तो विभाग द्वारा निर्धारित समय पर वेरिफिकेशन किया जाएगा और लाभार्थी को प्रोत्साहन राशि प्रदान कर दी जाएगी.उन्होंने बताया कि मेरा पानी मेरी विरासत है योजना के तहत जो किसान धान की फसल के समय अपने खेतों को खाली रखेंगे उन्हें भी प्रोत्साहन राशि दी जाएगी.

About Rohit Kumar