Breaking News

हरियाणा में बादल फटने जैसे आसार, इन जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी

हिसार । हरियाणा में बादल फटने जैसे हालात दिखाई दे रहे हैं. बता दें कि प्रदेश में सबसे अधिक बारिश सोनीपत में 614 एमएम दर्ज की गई है. वही बहादुरगढ़ में 15 घंटे के अंतराल में 253 एमएम बरसात दर्ज की गई है. मौसम विज्ञानियों के अनुसार सोनीपत और बहादुरगढ़ में तेज बारिश की स्थिति देखने को मिल सकती है.

आने वाले 3 दिनों में हरियाणा में होगी जमकर बरसात

बहादुरगढ़ में इतनी बारिश हुई है कि अंडरपास डूब गए. वहीं शहर में कई स्थानों पर जलजमाव हो गया. झज्जर में 126 एमएम, गुरुग्राम में 143 एमएम बारिश दर्ज की गई. बारिश की वजह से प्रदेश भर में तापमान मे 6 से 7 डिग्री गिरावट दर्ज की गई है. हिसार में दिन का तापमान 29.1डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया . आने वाले 3 दिनों तक ऐसे ही बारिश होने की संभावना है. हिसार सहित अन्य क्षेत्रों के लिए भी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है.

यह भी पढ़े   Monsoon 2021: हरियाणा में इस तारीख तक दस्तक दे सकता है मॉनसून, होगी अच्छी बारिश

सिरसा,  हिसार और फतेहाबाद में अभी कम बरसात हुई है. चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ मदनलाल खिचड़ ने बताया कि मॉनसून के उत्तर की तरफ आने, बंगाल की तरफ से नमी वाली पुरवाई हवा तथा अरब सागर पर बने एक कम दबाव का क्षेत्र से दक्षिण पश्चिम मानसून 18 जुलाई से हरियाणा राज्य में सक्रिय हुआ था. भारत मौसम विज्ञान विभाग के आंकड़ों के अनुसार 1 जून से 19 जुलाई तक हरियाणा में 136.3 एमएम बरसात दर्ज हुई,  जो सामान्य बारिश से केवल 3 फीसद कम है.

यह भी पढ़े   हरियाणा के कई जिलों में मेहरबान हुए इंद्रदेव, 15 जुलाई तक भारी बारिश की संभावना

1 दिन में दर्ज की गई इतनी बरसात

दादरी- 30 एमएम
हिसार- 4 एमएम
कैथल- 68.71 एमएम
अंबाला-100.2 एमएम
कुरुक्षेत्र- 46 एमएम
टोहाना (फतेहाबाद)- 5 एमएम
बहादुरगढ़- 253 एमएम
झज्जर- 126 एमएम
यमुनानगर- बूंदाबांदी
पानीपत- 43 एमएम
भिवानी- 14 एमएम
करनाल-22 एमएम
रोहतक-60 एमएम
जींद- 93 एमएम

About Monika Sharma