Breaking News

बिना अनुमति के खंभों पर तार डालने वालों पर की जाएगी करवाई, की जाएगी रिकवरी

चरखी दादरी । उपायुक्त अमरजीत सिंह मान ने जिले में बिना अनुमति के अवैध तरीके से लगाए गए मोबाइल टावरों सहित बिजली के खंभों पर,केवल ऑपरेटर, इंटरनेट प्रोवाइडर द्वारा लगाई गई तारों, अंडरग्राउंड तारों की लाइनों को लेकर कार्यवाही व रिकवरी के निर्देश जारी किए हैं. बता दें कि उपायुक्त ने बिजली विभाग, नगर परिषद और ग्रामीण विकास विभाग को तुरंत सर्वे कर रिपोर्ट देने के लिए कहा है. उपायुक्त ने कहा कि दादरी शहर सहित पूरे जिले में बहुत सी कंपनियों द्वारा मोबाइल टावर लगाए हुए हैं.

यह भी पढ़े   योग दिवस कार्यक्रम में पहुंची भाजपा नेत्री बबीता फौगाट का विरोध, किसानों ने फिर दिखाए काले झंडे

उपायुक्त द्वारा जारी किए गए निर्देश इन पर की जाएगी कार्रवाई

उन्होंने कहा कि नियमों अनुसार टावर लगाने के लिए संबंधित विभागों से अनुमति लेना आवश्यक है. कई जगहों पर बिना अनुमति के ही टावर लगा दिए गए हैं. नगर परिषद और ग्रामीण विभाग तुरंत दादरी शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में लगाए गए टावरों की जांच करें और यह भी सुनिश्चित करें कि क्या उन्होंने विभाग से अनुमति ली है. दादरी शहर सहित पूरे जिले में बिजली निगम और नगर परिषद की स्टेट लाइनों के खंभों पर केबल ऑपरेटर व इंटरनेट उपलब्ध करवाने वालों ने बिना किसी अनुमति के तारे डाल रखी है.

यह भी पढ़े   कल सुबह 5 बजे से हटाया गया लॉकडाउन, मुख्यमंत्री ने दी जानकारी

सरकार के नियमों के अनुसार इन खंभों पर तारे डालने के लिए निर्धारित शुल्क भरना होता है, साथ ही संबंधित विभाग से 3 साल तक की लीज लेनी होती है. संबंधित विभाग ऐसे सभी मामलों में रजिस्टर के जरिए लेखा-जोखा रखते हैं. उन्होंने कहा कि दादरी जिले में शायद ही किसी केबल ऑपरेटर और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर ने खंभों पर तार डालने की अनुमति लेकर  शुल्क का भुगतान किया हो.

About Monika Sharma