Breaking News

केवल झज्जर जिले में ही बढ़े सरकारी स्कूलों में दाखिले, पलवल- पानीपत की हालत खस्ता

झज्जर । मासूमों को विद्या देने के लिए मंदिर की दहलीज तक पहुंचाने में झज्जर जिला पूरे हरियाणा में अव्वल रहा है. वही पलवल जिला सबसे फिसड्डी साबित हुआ है. बता दे कि प्रदेश में केवल झज्जर जिला ही ऐसा है जहां पिछले वर्ष के मुकाबले पहली कक्षा में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों की संख्या बढ़ी है. प्रदेश के अन्य जिले अभी भी पिछले वर्ष के आंकड़े को छू तक नहीं पाए हैं.

 हरियाणा का झज्जर जिले मे दाखिले बढ़े

मासूम बच्चों को पहली कक्षा में दाखिला दिलाने के मामलों में केवल झज्जर जिला ही ग्रीन जोन में शामिल हो पाया है. जबकि अन्य जिले रेड जोन में है, जहां लगातार दाखिलों की संख्या कम हो रही है. सरकार भी सरकारी विद्यालय में दाखिलो को बढ़ाने का प्रयास कर रही है. इसके लिए शिक्षक डोर टू डोर अभियान चला रहे हैं.

यह भी पढ़े   CBSE: दसवीं का रिजल्ट अब जुलाई में होगा जारी, मार्क्स सबमिट करने की तारीखों में किया गया बदलाव

जिसकी बदौलत प्रदेश में झज्जर जिला नंबर वन पर रहा है. हरियाणा की बात करें तो पिछले वर्ष पहली कक्षा में कुल 181520 विद्यार्थियों ने दाखिला लिया था. वहीं इस साल अभी तक कुल 159980 विद्यार्थी ही पहली क्लास में दाखिला ले पाए हैं. पिछले वर्ष की तुलना में 21540 विद्यार्थियों की संख्या में कमी आई है. अभी भी दाखिला की प्रक्रिया चल रही है, जिस से उम्मीद है कि जल्द ही यह अंतर कम होगा.

झज्जर के जिला सक्षम नोडल अधिकारी डॉक्टर सुदर्शन पुनिया ने बताया कि झज्जर ही एक ऐसा जिला है जहां पहली कक्षा में विद्यार्थियों की संख्या में इजाफा हुआ है पिछले वर्ष पहली कक्षा में विद्यार्थियों की संख्या 3555 थी, वहीं इसी वर्ष 3621 विद्यार्थी दाखिला ले चुके हैं. जों पिछले वर्ष से 66 अधिक है. इसके अलावा कोई भी जिला ऐसा नहीं है जो पिछले वर्ष के मुकाबले दाखिले अधिक हुए हो.

यह भी पढ़े   नौवीं कक्षा के 80 छात्रों में से 60 फेल, भड़के परिजनों व बच्चो का जोरदार प्रदर्शन

About Monika Sharma