Breaking News

पानीपत में पहले पत्नी और बच्चे का गला घोटा, फिर ट्रेन के सामने कूदकर दी जान

पानीपत । हरियाणा के पानीपत में एक खौफनाक मामला सामने आया है. जिसमें घरेलू कलह की वजह से 3 लोगों की मौत हो गई. बता दे कि गांव सिवाह में रहने वाले 30 वर्षीय युवक रमेश ने अपनी पत्नी और 1 साल के बेटे की हत्या कर दी और उसके बाद ट्रेन से कटकर उसने आत्महत्या कर ली. युवक के भाई ने उसको रोकने का काफी प्रयास किया लेकिन वह उसके हाथ नहीं आया.

 गुस्से व शक के कारण 3 लोगों ने गवाई जान

बता दें कि उसकी पत्नी अनुरीता पति रमेश पर शक करती थी कि उसके किसी और महिला के साथ संबंध है. इसी वजह से दोनों के बीच अक्सर अनबन चलती रहती थी. रमेश अपने ससुर को कहता था कि अन्नू और बच्चे कविश को मारकर वह खुद भी मर जाएगा. तब ससुर को लगता था कि वह मजाक कर रहा है, लेकिन उन्हें क्या पता था कि दमाद इतना बड़ा कदम उठा लेगा. नई दिल्ली में प्रॉपर्टी डीलर पदम पंवार के पास कार चलाने और बतौर बाउंसर नौकरी करने वाला रमेश कादियान डेढ़ महीने पहले ही अपने गांव आया था. उसकी शादी सोनीपत के नया बास की अनुरीता से हुई थी. दोनों का 1 साल का बेटा भी था. लॉक डाउन की वजह से रमेश दिल्ली नहीं गया. लोक डाउन के दौरान दोनों का झगड़ा बढ़ने लगा.  रमेश ने वीरवार शाम को अनुरीता की चुन्नी से गला घोट कर हत्या कर दी. इसके बाद अपने हाथ से बेटे का गला घोट दिया.

यह भी पढ़े   कश्मीरी टीवी एक्ट्रेस की गोली मारकर हत्या

पत्नी और बच्चे को मारने के बाद ट्रेन के सामने कूदकर युवक ने की आत्महत्या 

पुलिस कंट्रोल रूम मे कॉल कर कहा कि उसने बेटे और पत्नी को मार दिया है अब वह खुद ट्रेन से कटने जा रहा है. उसके बाद उसने फोन करके पदम पंवार के बेटे को सब कुछ बता दिया. पवार के बेटे ने उसी समय रमेश के पिता पालेराम को फोन किया. पालेराम का बड़ा बेटा जब घर पहुंचा तो देखा कि अनुरीता और कविश का शव बेड पर पड़ा है. सुरेश ने इस बारे में पुलिस को बताया,  तो उसे देखकर रमेश भागने लगा. उसने रमेश का पीछा भी किया. लेकिन सिवाह से आगे पानीपत की तरफ वह रेल ट्रैक पर आ गया. एक बार तो उसने उसको धक्का दे दिया,  वह भागकर एक के खेत में छुप गया. उसके बाद वह पानीपत से दिल्ली जा रही पश्चिम एक्सप्रेस के आगे लेट गया और उसका सिर कट गया.

यह भी पढ़े   तिहाड़ जेल से आए बंदी समेत दो लोगों ने लगाई फांसी, मचा हड़कंप

About Monika Sharma