Breaking News

सिद्दू मूसेवाला हत्याकांड का लॉरेंस बिश्नोई ने किया पर्दाफाश, पूछताछ के दौरान बिश्नोई ने खोले राज

नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस की कस्टडी कस्टडी में लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ में लॉरेंस बिश्नोई ने कई कई राज का पर्दाफाश किया है। लॉरेंस बिश्नोई ने कहा है कि कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ ने सिद्दू मूसेवाला की हत्या करवाई है. हत्या की प्लानिंग 3 महीने पहले की गई थी लॉरेंस के गिरोह के शूटर हत्या की साजिस में लगे हुए थे हालांकि लॉरेंस बिश्नोई ने पूछताछ के दौरान बताया कि लॉरेंस बिश्नोई मंगलवार को 5 दिन की पुलिस कस्टडी रिमांड पर हैं. लॉरेंस बिश्नोई ने कई घंटे की पूछताछ में बताया कि मोहाली में गत साल हुई 7 अगस्त को उनके सदस्य विक्की मिट्ठू खेड़ा की हत्या कर दी गई थी. और विक्की के कातिलों को सिद्दू मूसेवाला ने खुलेआम अपने घर में ठराया था । इसका बदला लेने के लिए सिद्धू मूसेवाला की हत्या की प्लानिंग गई।
पुलिस की छानबीन में यह बात भी मालूम हुई है कि मूसेवाला दविंदर बबीहा का साथ दे रहा था और मैं अपने सभी गीतों में उसका जिक्र करता था । हत्या की वजह उसका म्यूजिक इंडस्ट्री का करोड़ों कारोबार भी बताया जा रहा है।
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सिद्धू मुसेवाला की मर्डर प्लानिंग लगभग 3 महीने पहले बनाई गई थी । बिश्नोई के कहने पर गोल्डी बराड़ सिद्धू का काम तमाम करने के लिए कहा था उसे जान से मारने के लिए अपने शूटर उसके पीछे लगा रखे थे। वह इस फिराक में थे कि सिद्धू मूसावाला की हत्या को कैसे भी अंजाम दे सकें।

यह भी पढ़े   सैनिटाइजर की बोतल भरते हुए डॉक्टर पी रहा था सिगरेट, मौत

80 पुलिसकर्मी कमांडो की देखरेख में है लॉरेंस

सिद्दू मूसेवाला हत्याकांड का लॉरेंस बिश्नोई ने किया पर्दाफाश

मुसेवला की हत्या के बाद से उत्तर भारत में गैंगबारों की संख्या बढ़ गई है। और ऐसे में अंदेशा लगाया जा रहा हैं की इससे लोगों में खौफ पैदा हो रहा है। उनसे कड़ी सुरक्षा में रोहिणी स्थित स्पेशल टीम के कार्यालय में जांच पड़ताल जारी है। इस कार्यालय में लगभग 80 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात हैं इसमें स्पेशल सेल टी , पुलिसकर्मी व दिल्ली पुलिस के कमांडो भी शामिल है इसकी निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे पर कड़ी नजर रखी राखी जा रही है।

लॉरेंस बिश्नोई के पास नहीं है मोबाइल फोन

सिद्दू मूसेवाला हत्याकांड का लॉरेंस बिश्नोई ने किया पर्दाफाश

लॉरेंस बिश्नोई ने पिछले कई महीनों से नहीं किया जेल के अंदर मोबाइल का यूज ऐसे में पुलिस किस बात का पता करने में लगी है कि गोली बराड़ को मुझे वाला की हत्या करने के लिए रानी कैसे निर्देश दिए आलम की कुछ महीने पहले तक लॉरेंस तिहाड़ में मोबाइल का उपयोग कर रहे थे और वह सिगनल ऐप से बात करते थे।

यह भी पढ़े   सिरसा के ओढा गांव में कुदरत का कहर, आसमानी बिजली गिरने से 20 भेड़ बकरियों की मौत

पूछताछ के दौरान बिश्नोई ने खोले राज

सिद्दू मूसेवाला हत्याकांड का लॉरेंस बिश्नोई ने किया पर्दाफाश

दिल्ली पुलिस ने बताया कि लांच विश्नोई शुरू में तफ्तीश के दौरान उन्होंने बताया कि लॉरेंस बिश्नोई ज्यादा सहयोग नहीं कर रहे थे पुलिस की पूछताछ के दौरान लायंस ने कहा कि इसका मुझसे वाले की हत्या से कोई लेना देना नहीं है मैं नहीं जानता की हत्या किस प्रकार हुई और यह किसने की।
लॉरेंस बिश्नोई इस हत्या के मामले से अपने आपको अलग बताया इसके पीछे उसके गिरोह के सदस्य गोल्डी बुरा नहीं सत्य की जिम्मेदारी ली है मालूम होगी लॉरेंस रंगोली बनाना हर बार अपनी गैंग में नए गुरुओं का इस्तेमाल करते हैं ताकि पुलिस उन तक न पहुंच सके।

About Monika Sharma