Breaking News

हरियाणा में 24 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, जाने क्या है नई पाबंदिया

चंडीगढ़ । हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने आज प्रदेश में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने को लेकर घोषणा कर दी है.  गौरतलब है कि लॉकडाउन का यह तीसरा चरण माना जा सकता है क्योंकि इससे पहले 3 से लेकर 10 मई तक पहली बार लॉकडाउन लगाया गया था,दूसरे चरण में 11 से लेकर 17 मई तक लॉकडाउन लगाया गया था.हालांकि सरकार ने उसमें कुछ आमूल-चूल परिवर्तन कर लॉकडाउन के बजाय महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा का नाम दिया था. दूसरे चरण के लॉक डाउन की अवधि आज खत्म होने वाली थी इससे पहले ही आज मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने इस लोक डाउन की अवधि को 7 दिन के लिए और बढ़ा दिया है यानी अब 24 मई 2021 सुबह 6:00 बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा.

पहले की तरह रहेंगी पाबंदियां : अनिल विज

हरियाणा के स्वास्थ्य एवं गृह मंत्री श्री अनिल विज ने जी आज ट्विटर के माध्यम से इसकी घोषणा की. श्री विज ने अपने टि्वटर हैंडल पर लिखा कि महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा को 17 मई से लेकर 24 मई तक बढ़ाया गया है. इस दौरान सारी पाबंदियां पहले जैसी ही रहेंगी और जिन जरूरी चीजों को पहले छूट प्रदान की गई थी उन्हें ही छूट प्रदान की जाएगी.

यह भी पढ़े   योग दिवस कार्यक्रम में पहुंची भाजपा नेत्री बबीता फौगाट का विरोध, किसानों ने फिर दिखाए काले झंडे

गौरतलब है कि हरियाणा में लॉकडाउन लगाने के परिणाम स्वरूप बीते कुछ दिनों से संक्रमण के मामलों में लगातार कमी दर्ज की जा रही है.ऐसे में सरकार द्वारा लॉकडाउन लगाने का यह कदम काफी सराहनीय रहा है. क्योंकि इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिले हैं.इसके अलावा सरकार यह भी दावा कर रही है कि फिलहाल राज्य में ऑक्सीजन संबंधित कोई कमी नहीं है.

बढ़ रहे हैं ब्लैक फंगस के मामले

हरियाणा में कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीमी पड़ती नजर आ रही है बीते कुछ दिनों के संक्रमण के आंकड़ों को देखा जाए तो संक्रमण के प्रति दिन के मामलों में बहुत ज्यादा गिरावट आई है. प्रदेश भर में संक्रमित मरीजों की संख्या एक लाख से भी कम पहुंच चुकी है. लेकिन संक्रमित मरीजों के ठीक होने के बावजूद ब्लैक फंगस नामक बीमारी से भी मरीज ग्रसित हो रहे हैं.बीते कुछ दिनों से ब्लैक फंगस के मामलों में इजाफा भी होता दिखाई दिया है. इसी कारण हरियाणा सरकार ने एहतियात के तौर पर इस बीमारी को अधिसूचित रोग घोषित कर दिया है.

यह भी पढ़े   झटका: जल्द से जल्द करे ये काम, नहीं तो बंद हो जायेगा आपका CSD स्मार्ट कार्ड

क्या होता है ब्लैक फंगस

अमूमन यह देखा गया है कि जो लोग कोरोना संक्रमित होते हैं और उपचार के बाद ठीक भी हो जाते हैं, उन लोगों में यह बीमारी पाई गई है. इसमें व्यक्ति के नाक और आंखों के पास धब्बे पड़ जाते हैं. शुगर के मरीजों को इसका खतरा ज्यादा बना रहता है. कई मामलों में मरीजों की आंखों की रोशनी कम हो जाती है इसके अलावा कई बार मरीज को आंखें भी गंवानी पड़ जाती है.

 

About Rohit Kumar