Breaking News

हरियाणा में हो रही है मॉनसून में देरी, किसानों की फसलों को हो रहा है नुकसान

हिसार । हरियाणा में मानसून का इंतजार लंबा होता जा रहा है. बता दें कि पहले प्रदेश में शनिवार की देर रात्रि से मॉनसून आने की सक्रियता बढ़ने की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. सोमवार को भी पूरे प्रदेश में बादल छाए रहे, परंतु बारिश नहीं हुई. हिसार व सिरसा के कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी के अलावा प्रदेश के किसी भी हिस्से में बारिश नहीं हुई. हालांकि मौसम में आए बदलाव की वजह से लोगों को गर्मी से राहत अवश्य मिली. परन्तु पुरवाई हवाए  चलने की वजह से मौसम में उमस बढ़ गई.

यह भी पढ़े   पदोन्नति की परीक्षा में फेल हुए हिसार मंडल के पुलिस कर्मचारी, केवल 77 कर्मचारी हुए पास

मॉनसून की देरी से परेशान हुए किसान 

वही मौसम वैज्ञानिकों ने उम्मीद जताई है कि 15 जुलाई तक प्रदेश में हल्की से मध्यम अथवा कहीं-कहीं तेज बारिश दर्ज की जा सकती है.गर्मी व उमस से परेशान लोग उम्मीद लगाए बैठे हैं कि जल्द बरसात होगी. मॉनसून की सक्रियता को देखते हुए रविवार को पूरे प्रदेश में मानसून दस्तक देगा और गर्मी से राहत मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. सोमवार को भी प्रदेश के अधिकतर जिलों में दिनभर बादल छाए रहे.

यह भी पढ़े   आज हरियाणा के इन जिलों में हीट वेव की चेतावनी, 47 डिग्री तक जाएगा तापमान

अधिकतर पारा गिरने के बावजूद पुरवाई हवाएं चलने से लोग उमस के कारण दिनभर पसीने से तरबतर रहे. वही मानसून की देरी का प्रतिकूल असर खरीफ की फसलों पर भी पड़ रहा है. मौसम में नमी आने की वजह से नरमा व कपास की फसलों को नुकसान हो सकता है. धान की रोपाई अन्य फसलें भी बरसात की वजह से प्रभावित हो सकती है.

About Monika Sharma