Breaking News

किसानों के लिए संजीवनी साबित हुई मानसून की बरसात, कैसा रहेगा 15 व 16 जुलाई को मौसम

हिसार। दक्षिणी पश्चिमी हवा चलने की वजह से मानसून के कारण कई जिलों  मे बारिश हुई . फसलों के लिए यह बारिश संजीवनी साबित हुई. एक और जहां बारिश आने से किसान खुश हुए वहीं दूसरी तरफ लोगों को भी गर्मी से राहत मिली. सोनीपत में सर्वाधिक 30 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. इसके अलावा हिसार में 13. 6, कुरुक्षेत्र जिले में करीब 25, रेवाड़ी में 15, रोहतक में 20 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई .

मानसून के कारण हरियाणा के कई जिलों में हुई बरसात 

मौसम विभाग के अनुसार हरियाणा में 12 जुलाई से सक्रिय हुए मानसून की वजह से बुधवार को कई जगहों पर बारिश हुई. इसलिए दो-तीन दिन हुई मॉनसून की बारिश की वजह से प्रदेश में दिन का तापमान 5 से 7 डिग्री सेल्सियस तक कम दर्ज किया गया,   कृषि मौसम विज्ञान विभाग के आंकड़ों के अनुसार हरियाणा राज्य में मानसून की सक्रियता बढ़ने के बावजूद 1 जून से 14 जुलाई तक 83.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. जो सामान्य बारिश से तकरीबन 26% कम है. कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डॉ मदन लाल खिचड़ ने बताया कि प्रदेश में 2 दिन 15 व 16 को मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने व कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी देखने की संभावना है 17 जुलाई से बंगाल की खाड़ी में एक और लो प्रेशर एरिया बनने से मानसून की सक्रियता फिर बढ़ने से प्रदेश के सभी लोगों को गरज व चमक के साथ बरसात देखने को मिली .

यह भी पढ़े   हरियाणा में अगले तीन दिन बारिश की सम्भावना, जाने मौसम विभाग का अलर्ट

About Monika Sharma