Breaking News

बड़ी राहत: अब सरकारी स्कूल में दाखिला लेने की इच्छा होगी पूरी, प्राइवेट स्कूल नहीं रोक पाएंगे SLC

पानीपत । राजकीय स्कूलों में पढ़ने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है. बता दें कि अगर कोई विद्यार्थी  राजकीय स्कूल  में दाखिला लेना चाहता है तो उसके लिए प्राइवेट स्कूल संचालक एसएलसी जारी नहीं कर रहे. जिसकी वजह से उनका दाखिला नहीं हो पा रहा. लेकिन अब वे ऐसा नहीं कर पाएंगे. क्योंकि उसे दाखिला दिलाने के लिए संबंधित राजकीय स्कूल के अध्यापक एसएलसी जारी करवाएंगे.

विद्यार्थी ले पाएंगे अपनी मर्जी के स्कूल में दाखिला

स्कूल निदेशालय के पत्र के मुताबिक विभिन्न स्कूल  मुखियाओ व अध्यापक  संगठनों द्वारा विभाग के संज्ञान में लाया गया है की प्राइवेट स्कूल के बहुत से विद्यार्थी राजकीय विद्यालय में दाखिला लेने के लिए जा रहे हैं, परंतु गैर सरकारी विद्यालयों द्वारा उनका एसएलसी जारी न किए जाने के कारण वे ऑनलाइन दाखिला नहीं करवा पा रहे . जिसकी वजह से विद्यार्थी व उनके अभिभावकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में विभाग ने फैसला लिया है कि राजकीय स्कूलों में दाखिला लेने के इच्छुक विद्यार्थियों को तुरंत दाखिला दिया जाए.

यह भी पढ़े   शिक्षा मंत्री की बड़ी घोषणा: प्राइवेट स्कूल को एक महीने में भेजी जाएगी ये राशि

वही निदेशालय ने कहा कि संबंधित राजकीय स्कूल की ओर से दाखिला लेने के इच्छुक विद्यार्थियों के पिछले स्कूल को उसके दाखिले की सूचना देते हुए 15 दिन के अंदर एसएलसी जारी करने का आग्रह किया जाए. अगर 15 दिनों के अंदर ऑनलाइन एसएलसी प्राप्त नहीं हुई तो स्वत ही जारी किया हुआ मान लिया जाएगा. बता दे कि निदेशालय का कहना है कि कोविड-19 की त्रासदी के कारण किसी भी विद्यार्थी की औपचारिक शिक्षा नकारात्मक रूप से प्रभावित नहीं होनी चाहिए. शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अनुपालन में विद्यार्थी अपनी इच्छा के स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं.

यह भी पढ़े   HBSE 12th कक्षा की परीक्षा के लेकर हुई मीटिंग में हरियाणा के शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान, जाने

About Monika Sharma