Breaking News

रोहतक में ब्लैक फंगस के इंजेक्‍शन की कालाबाजारी करते फार्मा कंपनी अधिकारी, दबोचे

रोहतक । ड्रग कंट्रोल अथॉरिटी और हरियाणा पुलिस की संयुक्त टीम ने ब्लैक फंगस के इंजेक्शन को अधिक रेट पर बेचने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया. रोहतक से गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपी ब्लैक फंगस के मरीजों के इलाज में इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन एंफोटरइसिन बी की कालाबाजारी कर रहे थे. हरियाणा पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान हिसार निवासी राहुल चौहान और भिवानी के डिंपल शर्मा के रूप में हुई है. दोनों इंजेक्शन को बहुत अधिक दामों में मरीज के परिजनों को बेच रहे थे.

यह भी पढ़े   पलवल में मानवता हुई शर्मसार: 85 वर्षीय बुजुर्ग महिला की लाठी-डंडों से पिटाई, वीडियो वायरल

12000 में बेच रहे थे एक इंजेक्शन

दरअसल पुलिस को सूचना मिली कि एक फार्मा कंपनी के 2 कर्मचारी ब्लैक फंगस की दवा को सरकार द्वारा निर्धारित कीमत से कई गुना अधिक रेट पर बेच रहे हैं. इसी सूचना के आधार पर एसटीएफ और ड्रग कंट्रोलर ऑफिसर की एक टीम का गठन किया गया. गिरफ्तार किए गए दोनों युवकों से नकली ग्राहक बनकर संपर्क किया गया.

आरोपियों ने पुलिस से ₹12000 एक इंजेक्शन की एवज में मांगे. पुलिस ने दोनों युवकों को 23 मई को हिसार रोड के पास इंजेक्शन की सप्लाई के लिए बुलाया. जहां पर पुलिस की संयुक्त टीम ने दोनों आरोपियों को पकड़ा और उनके खिलाफ रोहतक में मामला दर्ज करवाया. अभी आगे की जांच की जा रही है.

यह भी पढ़े   रोहतक की युवती से होटल लेजाकर नशीला पदार्थ खिलाकर किया दुष्कर्म, मामला दर्ज

About Rohit Kumar