Breaking News

कैसा बनेगा सपनो का आशियाना, मार्च 2019 से बंद पड़ा है प्रधानमंत्री आवास योजना का पोर्टल

कैथल । वर्ष 2016 में भारत सरकार की तरफ से गरीब परिवारों के लोगों का आशियाना बनाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना शुरू की गई थी. इसका पोर्टल मार्च 2019 से बंद पड़ा है. जिसकी वजह से 14409 आवेदन अटक गए हैं. बता दें कि पिछले 3 सालों से लोगों को इस योजना का कोई भी लाभ नहीं मिल पा रहा है. जिन लोगों को योजना का पात्र माना गया है उन्हें भी योजना से वंचित रहना पड़ रहा है. 2016-17 में 1469 मकान बनाने का टारगेट आया था, इसके बाद कोई भी टारगेट नहीं आया.

यह भी पढ़े   सरकारी विभागों में किया जाएगा E-Vehicles का प्रयोग, योजना बना रही हरियाणा सरकार

प्रधानमंत्री आवास योजना पोर्टल मार्च 2019 से पड़ा है बंद

अब स्थिति यह है कि पोर्टल बंद होने के कारण लोग नए आवेदन भी नहीं कर पा रहे. वर्ष 2017 -18 में 1469 मकान बनाने के लिए राशि मंजूर हुई थी. उसमें से 1469 को पहले किस्त का लाभ मिल गया, लेकिन दूसरी व तीसरी किस्त अभी काफी लोगों को नहीं मिल पाई . इसमें 1428 को दूसरी किस्त व 1412 को तीसरी किस्त मिली है. केंद्र सरकार की तरफ से अब राज्य स्तर पर इस योजना को हाउसिंग फॉर ऑल यानी सबके लिए मकान के नाम से अलग विभाग बना दिया गया है.

यह भी पढ़े   बेटी की शादी के लिए हरियाणा सरकार दे रही है 51 हजार, इस तरह उठाए योजना का लाभ

अब शहरी व ग्रामीण क्षेत्र का कार्य इसी विभाग की तरफ से देखा जाएगा. लोग पोर्टल शुरू होने का इंतजार कर रहे है. रोहेड़िया गांव निवासी राजाराम सुखबीर ने बताया कि 2018 में आवेदन किया था. उसके बाद पंचायत विभाग की टीम ने सर्वे किया. उन्हें उम्मीद थी कि 2 या 3 महीने के बाद किस्त आनी शुरू हो जाएगी. लेकिन आज साडे तीन साल बीत गए हैं अभी तक इस योजना का कोई भी लाभ नहीं मिल पाया है.

About Monika Sharma