Breaking News

कोरोना मरीजों से ज्यादा रेट लेना पड़ा महंगा, इस निजी अस्पताल का लाइसेंस रद्द

फरीदाबाद । हरियाणा के फरीदाबाद में एक निजी अस्पताल पर बड़ी कार्रवाई की गई है। बल्लभगढ़ के जेनिथ अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है. उपायुक्त यशपाल द्वारा यह कार्रवाई की गई. बताया जा रहा है कि जेनिथ अस्पताल ने कोरोना महामारी के समय लोगों से ज्यादा फीस ली और बेवजह परेशान किया. इसी को लेकर 11 लोगों ने अपनी लिखित शिकायत जिला उपायुक्त और जिला सिविल सर्जन को दी थी. मीडिया पर भी यह खबर प्रमुखता से चली थी. अब प्रशासन ने कार्यवाही करते हुए हस्पताल के लाइसेंस को रद्द कर दिया है.

यह भी पढ़े   भिवानी के इस गांव में 60 लोगों ने गवाई जान, अब हरकत में आया प्रशासन

गौरतलब है कि सरकार द्वारा निजी अस्पतालों को आगाह किया था कि कोरोना के मुश्किल समय में यदि कोई अस्पताल मरीजों से निर्धारित रेट से अधिक फीस लेता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी और अस्पताल का लाइसेंस भी रद्द किया जा सकता है. बता दें कि हरियाणा सरकार ने इलाज के लिए सभी चिकित्सा सुविधाओं के रेट तय कर दिए थे सरकार ने कहा था कोई भी अस्पताल तय फीस से ज्यादा नहीं लेगा.

यह भी पढ़े   लॉकडाउन के नियमों में ढील को लेकर गृह मंत्री अनिल विज ने दिया बड़ा बयान, जाने

ऐसे में जेनिथ अस्पताल से लगातार शिकायतें आ रही थी कि अस्पताल प्रशासन द्वारा मरीजों से तय फीस से ज्यादा फीस ली जा रही हैं. इसी को देखते हुए 11 लोगों ने अपनी शिकायत जिला उपायुक्त और जिला सिविल सर्जन को सौंपी थी. अब उन्होंने कार्रवाई करते हुए अस्पताल के लाइसेंस को रद्द कर दिया है.

About Rohit Kumar