Breaking News

हरियाणा में आबकारी राजस्व में रिकॉर्ड बढ़ोतरी, पहली तिमाही में 28 प्रतिशत ज्यादा कलेक्शन

चंडीगढ़ । हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि प्रदेश की बेहतरीन आबकारी नीति के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस वर्ष 2021-22 की प्रथम तिमाही में आबकारी विभाग को 1751.04 करोड रुपए का राजस्व कलेक्शन हुआ है. वहीं पिछले वर्ष इसी तिमाही के दौरान ही है 1370.86 करोड था. ऐसे में करीब 28% की वृद्धि हुई है.

सामने आने लगे हैं आबकारी नीति के सकारात्मक परिणाम

दुष्यंत चौटाला के पास आबकारी व कराधान विभाग है. डिप्टी सीएम ने बताया कि इसी वर्ष जून में विभाग ने 1004.70 करोड रुपए का संग्रह किया, जबकि पिछले वर्ष जून के महीने में केवल 586.32 करोड रुपए का कलेक्शन हुआ था. डिप्टी सीएम ने बताया कि इस प्रकार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष जून महीने में 71.36% कि राजस्व में वृद्धि हुई है. दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा सरकार की आबकारी नीति को बेहतरीन नीति बताते हुए कहा कि वर्ष 2020 – 21 के लिए तैयार की गई आबकारी नीति में नवीनीकरण या निविदा के माध्यम से शराब की दुकानों के आवंटन में पारदर्शिता बरतने का पूरा ध्यान रखा गया है.

यह भी पढ़े   हरियाणा में खरीफ फसलों के पंजीकरण के लिए खुला-मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि पिछले वर्ष जहां लाइसेंस शुल्क के रूप में करीब 2910 करोड रुपए का राजस्व प्रदेश को मिला था, 2021-22 में खुदरा शराब ठेकों के कुल 1044 जॉन में लाइसेंस का नवीनीकरण किया गया, जिससे विभाग को 3201.46 करोड रुपए का राजस्व मिला. उन्होंने जानकारी दी कि 159 जॉन के ठेकों के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं हो पाया है. ऐसे में राज्य सरकार के निर्णय के अनुसार इन सभी जोन को इन निविदा के माध्यम से अपडेट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. बता दें कि अब तक की निविदा के माध्यम से 12 राउंड सफलतापूर्वक पूरे किए जा चुके हैं.

यह भी पढ़े   नानी को श्रद्धांजलि देने हिसार पहुंचे दुष्यंत चौटाला, किसानों ने दिखाए काले झंडे

ऐसे में उक्त सभी जोन में से कुल 1123 जोन का आवंटन किया जा चुका है. वही जिसमें से इन आवंटित जोन के लिए वर्ष 2021 – 22 हेतु 3601 करोड रुपए की लाइसेंसी फीस वसूल की जाएगी. उन्होंने बताया कि राज्य में अब केवल 40 जोन बकाया है.5 जुलाई 2021 को बोली आमंत्रित की गई है इन जॉन के आरक्षित मूल्य 251 करोड रुपए रखा गया है.

About Monika Sharma