Breaking News

क्या सुशील कुमार के दांव से चित हो गई पुलिस, अभी तक हाथ नहीं लगा पुख्ता सबूत

नई दिल्ली । दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई को 23 वर्षीय पहलवान सागर धनकड़ की हत्या के मामले में ओलंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार की 10 दिन की रिमांड पूरी होने के बाद, दिल्ली पुलिस अब इसे और दो-तीन दिन बढ़ाने की मांग कर रही है. दिल्ली की रोहिणी कोर्ट नेे  अपील ठुकराते हुए पहलवान को जेल भेज दिया है.

पुलिस को अभी तक नहीं मिला कोई खास सबूत

3 दिन की रिमांड मांगते हुए पुलिस ने कहा कि जांच के दौरान हमें एक महत्वपूर्ण वीडियो मिला है. सुशील को दोबारा से हरिद्वार ले जाया जाएगा. अभी और लोगों को भी गिरफ्तार करना बाकी है. इसके साथ ही पुलिस ने एक बार फिर आरोपी सुशील पहलवान पर जांच में सहयोग न देने के आरोप लगाए हैं. 18 दिन तक दिल्ली उत्तर प्रदेश, हरियाणा,  पंजाब और उत्तराखंड मे फरार काटने वाले पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ 10 दिन की रिमांड में पुलिस के हाथ कोई खास और दमदार सुबूत नहीं लगा है. दिल्ली पुलिस की कई टीम लगातार मामले की जांच कर रही है.

यह भी पढ़े   7वां वेतन आयोग: ये लाखों गवर्नमेंट सर्वेंट भी पाएंगे केंद्र के समान Salary, साथ मिलेगा 4 साल का Arrear

18 दिनों के बाद एक खास प्लांनिंग के तहत दिल्ली लौटे सुशील

दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक क्राइम ब्रांच अपनी अब तक की जांच में किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी हैं. अभी तक 9 आरोपियों से पुलिस कोई भी खास सबूत  नहीं उगलवा सकी है. सागर हत्याकांड मामले को अब तकरीबन एक महीना होने को आया है, अब तक पुलिस के हाथों में कोई पुख्ता सबूत नहीं लगा है. अभी भी इस मामले में कुछ आरोपी फरार चल रहे है. जिन को गिरफ्तार करना पुलिस के सामने चुनौती बना हुआ है. पुलिस छत्रसाल स्टेडियम में लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर के अलावा वारदात के समय सुशील द्वारा पहने गए कपड़े और डंडा भी अभी तक रिकवर नहीं हुआ है. ऐसा लगता है कि सागर हत्याकांड के 18 दिन बाद पहलवान सुशील कुमार ने खास प्लानिंग के तहत दिल्ली में वापसी की. वहीं दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक सुशील ने मारपीट की वजह प्रॉपर्टी विवाद बताया.

यह भी पढ़े   बैंक ऑफ बड़ौदा का अजीबोगरीब कारनामा, किसान को दिए 17 हज़ार के रूपए के सिक्के

About Monika Sharma