Breaking News

टिकरी बॉर्डर पर पश्चिम बंगाल की युवती के साथ दुराचार मामले में पुलिस ने उठाया यह बड़ा कदम, जाने

नई दिल्ली । टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में शामिल होने आईं युवती के साथ दुराचार मामले में आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस द्वारा इनाम की घोषणा कर दी गई है. पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल ने बताया कि वांछित अपराधियों को पकड़ने की मदद करने वाले या उनके संबंध में पुख्ता जानकारी देने वाले व्यक्ति को पुलिस के द्वारा नगद इनाम दिया जाएगा. इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि अपराधियों के बारे में यदि कोई पुलिस को सूचना देता है तो उसकी पहचान गुप्त रखी जाएगी.

यह भी पढ़े   किसान आंदोलन में आंदोलनकारी पर पेट्रोल छिड़क लगाई आग, बहादुरगढ़ अस्‍पताल में तोड़ा दम

एसपी राजेश दुग्गल ने बताया कि पीड़िता अपने बंगाल स्थित घर से दिल्ली के लिए 11 अप्रैल को चली. उसके साथ अनिल मलिक, जगदीश बराड़, अंकुर सांगवान, अनूप चनोट और एक महिला भी थी. अनूप और अनिल के साथ उनके टेंट में रही थी. आरोप लगाया गया कि यहां पर उसके साथ गलत काम किया गया. हालांकि बाद में उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी और उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया. उसके पिता ने शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसके तहत शहर थाना पुलिस ने 9 मई को आईपीसी की अनेक धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया था. आरोपियों को पकड़ने के लिए एसआईटी का गठन भी किया गया था.

यह भी पढ़े   सिरसा में डिप्टी स्पीकर गंगवा के काफिले पर किसानों ने किया पथराव, गाड़ियों के शीशे तोड़े

इस मामले में पुलिस ने अब तक 20 लोगों से पूछताछ की है. द्वारा मामले की लगातार जांच भी की जा रही है. आरोपियों में से एक अंकुर की अग्रिम जमानत याचिका अदालत में खारिज की जा चुकी है. अब पुलिस ने बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए इनाम की घोषणा कर दी है.

About Rohit Kumar