Breaking News

बहादुरगढ़ में दर्दनाक हादसा, बेकाबू डंपर ने मारी कार और राहगीरों को टक्कर, दो की मौत

बहादुरगढ़ । बहादुरगढ़ में रेलवे लाइन पर थाना क्षेत्र के अंतर्गत बुधवार को नाहरा -नाहरी मार्ग पर एक बेकाबू डंपर  दौड़ रहा था. उसने एक जगह कार और दो जगह पर राहगीरों को चपेट में ले लिया. बाद में कहीं जाकर वह पेड़ से टकराकर रुका. बता दें कि इस घटना की वजह से अलग-अलग जगह किशोर व किशोरी की मौत हो गई, जबकि महिला समेत कई अन्य जख्मी भी हो गए.

डंपर की चपेट में आए एक कार और दो राहगीर

इसमें आरोपी चालक भी शामिल है पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. बता दे कि मृतको मे शहर के ओमेक्स अपार्टमेंट निवासी 13 वर्षीय वंश पुत्र संजय और लाइनपार की रहने वाली वंदना पुत्री मुकेश शामिल थी. मृतक वंश के पिता के बयान पर मामला दर्ज कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि उनका बेटा वंश मंगलवार को अपने दोस्त अमित के पास बामनोली गांव में गया हुआ था.

यह भी पढ़े   यमुनानगर में तीन युवतियों ने बुजुर्ग के कपड़े उतरवाकर बनाया वीडियो, ब्लैकमेल कर ₹5 लाख मांगे

जब वह उसको लेने के लिए बुधवार सुबह गए,   तो वे स्कूटी पर थे जबकि वंश उनके आगे आगे दौड़ लगाता हुआ शहर की तरफ आ रहा था. तभी बहादुरगढ़  की तरफ से एक डंपर तेज गति से आ रहा था. चालक ने लापरवाही बरतते हुए गलत दिशा में डंपर को मोड़ दिया, जिसकी वजह से डंपर ने सीधे वंश को टककर मारी. उसके बाद डंपर ने कुछ दूरी पर सड़क किनारे सैर कर रही मां- बेटी समेत तीन राहगीरों को भी अपनी चपेट में ले लिया. बाद में डंपर एक पेड़ से टकराकर रुका .

डंपर चालक की लापरवाही की वजह से हुआ बड़ा हादसा

शिकायतकर्ता ने बताया कि वह अपने पुत्र को अचेत अवस्था में सिविल अस्पताल लेकर गए जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इसी हादसे में मौत का शिकार हुई 14 वर्षीय वंदना अपनी मां बबली के साथ सैर करने के लिए गई थी. उसकी माँ बबली भी गंभीर रूप से जख्मी है. बता दे कि पहले इस डंपर की रेलवे फ्लाईओवर के पास आल्टो कार से टक्कर हुई थी इसके बाद चालक तेज गति से डंपर को भगा कर ले जा रहा था. इसी वजह से उसने दो और जगहों पर राहगीरों को चपेट में ले लिया.  शुरुआत मे जिस कार में डंपर की पीछे से टक्कर लगी उसे करीब 100 फीट तक वह घसीटता ले गया. इसके बाद भागने के लिए उसने डंपर की गति को बढ़ा लिया.

यह भी पढ़े   चमत्कार: डॉक्टरों ने किया मृत घोषित, घर आते ही चालू हो गई बच्चे की धड़कन

About Monika Sharma